श्री आदिनाथ जिनालय की रजत जयंती महोत्सव 7 फरवरी से

छिंदवाडा। 1008 तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी की दिव्य देशना को जन जन तक पहुंचाकर ज्ञायक भगवान आत्मा का परिचय कराने वाले आध्यात्मिक सतपुरूष गुरुदेवश्री कानजी स्वामी के तत्वप्रभावना योग से जिनवाणी तत्वरसिक स्वाध्याय प्रेमी दिगम्बर जैन मुमुक्षु समाज एवं अखिल भारतीय जैन युवा फेडरेशन के जिन शासन सेवकों ने वर्ष 1994 में अहिंसा स्थली गोल गंज में भव्य एवं मनोहारी श्री आदिनाथ दिगम्बर जिनालय का निर्माण कराकर अंतरराष्ट्रीय पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव कराया था। जिसका 25 वां वार्षिक उत्सव रजत जयंती महोत्सव के रुप मे कल गुरुवार 7 फरवरी से प्रारंभ हो रहा है।

फेडरेशन सचिव दीपकराज जैन ने बताया कि मंगल महोत्सव में पूरे देश से स्वाध्याय प्रेमी मुमुक्षु समाज धर्म नगरी छिंदवाडा पधार रही है जिनकी भव्य अगुवानी एवं अतिथि सत्कार मुमुक्षु समाज एवं फेडरेशन के श्रावक-श्राविकाएँ करेंगे।

श्री जैन ने बताया कि मंगल महोत्सव का शुभारंभ 7 फरवरी को प्रात: 7.00 बजे श्री जिनबिंम्ब प्रक्षालन एवं आदिनाथ जिनालय पर ध्वजारोहण से होगा पश्चात 7.15 से श्रीजीनेन्द्र पूजन एवं मंगल विंधान,9.30 से गुरुदेवश्री का सीडी प्रवचन,10 बजे से शास्त्र प्रवचन,11.00 से साधर्मी वात्सल्य,दोपहर 3.00 से 4.00 धार्मिक गोष्ठी,संध्या 7.15 से श्री जिनेन्द्र भक्ति,रात्रि 8.00 से मंगल प्रवचन एवं 9.00 बजे से विविध साहित्यिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन 11 फरवरी तक नियमित रूप से चलेगा। जिसमे अतिथि विद्धवान पण्डितश्री अभयकुमारजी शास्त्री जैनदर्शनाचार्य देवलाली नासिक,युवा विद्धवान पण्डितश्री विरागजी शास्त्री जबलपुर एवं पण्डितश्री सम्मेदजी शास्त्री टीकमगड के साथ स्थानीय विद्धावनों के श्रीमुख से मंगल प्रवचन, मंगल विंधान एवं जिनेन्द्र भक्ति का लाभ प्राप्त होगा।

महोत्सव के विशेष आकर्षण –

पांच दिवसीय महोत्सव में गुरुवार 7 फरवरी को गर्भकल्याणक पर प्रात: 8 बजे से आदिनाथ जिनालय गोल गंज से श्रीजी एवं मंगल कलश वेदी शुद्धि चल समारोह,श्री समयसार विधान, रात्रि 9 बजे वीतराग भवन में मातादेवी की चर्चा,अष्टकुमारिकाएँ एवं छप्पन कुमारिकाओं के नृत्य एवं माता के सोलह स्वप्न दिखाये जावेंगे। 8 फरवरी शुक्रवार को जन्मकल्याणक पर प्रात: 7.15 से श्री जिनेन्द्र पूजन एवं श्री प्रवचनसार विंधान रात्रि में जन्म कल्याणक की खुशी में इंद्रसभा के साथ अष्ट देवियों के सुंदर नृत्य प्रस्तुत किये जावेंगे। 9 फरवरी शनिवार को तपकल्याणक पर प्रात: श्रीजिनेन्द्र पूजन एवं तत्वार्थसूत्र विधान एवं रात्रि में तप कल्याणक की इंद्र सभा एवं लौकांतिक देवों का आगमन दिखया जावेगा। 10 फरवरी रविवार को ज्ञानकल्याणक पर प्रात: श्रीजिनेन्द्र पूजन एवं रत्नात्रय विंधान रात्रि में महाकवि बनारसीदासजी के जीवन पर आधारित विशेष नाटिका का सुंदर मंचन किया जावेगा। 11 फरवरी सोमवार को मोक्षकल्याणक के पावन प्रसंग पर प्रात: श्री जिनेन्द्र पूजन के बाद विशाल चल समारोह निकाला जावेगा एवं रात्रि में डॉ. उत्तमचन्दजी जैन की स्मृति में संस्कार सुधा का विमोचन एवं श्रीमती कुसुमलता पाटनी का अभिनन्दन,आभार प्रदर्शन कर महोत्सव का समापन किया जावेगा।

सम्पूर्ण कार्यक्रम श्री दिगम्बर जैन कुन्दकुन्द कहान विद्यापीठ वीतराग भवन जिला सहकारी बैंक के सामने अहिंसा स्थली गोल गंज में सम्पन्न होंगे जिसमे सम्मिलित होकर धर्म लाभ लेने की अपील सकल जैन समाज के साथ धर्मप्रेमी बन्धुओं से मुमुक्षु मण्डल एवं फेडरेशन के जिन शासन सेवकों द्वारा की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *